Best Hindi Shayari Collection

paisa-bhi-kamaal-ki

paisa bhi kamaal ki cheez hai jiske pass nahi uski izzat nahi
aur jiske pass hai use kisi ki izzat nahi

टूटे हुए सपनो और छुटे हुए अपनों ने मार दिया वरना
ख़ुशी खुद हमसे मुस्कुराना सिखने आया करती थी

kis se piyaar kro to inta kro ki bayan karne se pahle
use bhi tumhari piyaar ki ahemiyat samjh main aa jaye

कौन कहता है मुसाफिर जख्मी नही होते
रास्ते गवाह हैं कम्बख्त गवाही नही देते

main tere khayalon se bach kar kahan jaon
tum eri soch ke har rashte mein najar aate ho

उम्र छोटी है तो क्या ज़िंदगी का हरेक मंज़र देखा है
फरेबी मुस्कुराहटें देखी हैं बगल में खंजर देखा

bichadh kar milenge yakeen kitna hai
beshaq khuwaab hai magar haseen kitna hai

मुस्करा कर देखो तो सारा जहाॅ रंगीन है
वर्ना भीगी पलको से तो आईना भी धुधंला नजर आता है

Shayari Collection