Pyar Bhari Shayari

Pyar Bhari Shayari For girlfriend Boyfriend With Image, Romantic Piyaar Bhari Shayari Fechbook, Piyaar Bhari In English, Piyaar Bhari boyfriend

ek ek hurf ka

Pyar Bhari Shayari for girlfriend

ek ek hurf ka andaaz badal rakkha hai
aaj se maine tera naam gajal rakkha hai
meine saakho ki mohabbat ka bharam todh diya
maine kamre mein bhi ek taj mahel bana rakkha hai

लेके चले थे तूफान ठोकरों का दर ना था
संग था कारवां बिछड़ने का गम ना था
आर्जो थी साथ रहने की इम्र भर लेकिन मिलने का वक़्त ना था
कोशिश तो बोहत की मगर नज़रें मिलाने का दम ना था

tere piyaar ka kitna khubsurta ahesaas hai
lagta hai jaise ki to har pal mere saath hai

समेट कर ले जाओ अपने झूटे वादों के अदुरे किस्से
अगली मोहब्बत में तुम्हें ये काम आयेंगे

koun kaheta hai duniya mein humshakal nahi hote
dekh kitna milta hai mera dil tere dil se

सिर्फ एक बात ही सीखी है हुस्न आँख वालो से
हसीन जिस की जितनी अदा है वो उतना ही बेवफा है

aaj phir dekha kisi ne mohabbat bhari nigha se
ek baar phir teri khatir humne apni nigahen jhuka li

पहले तुझको तमन्ना मेरी थी और मुझ को तमन्ना तेरी थी
अब तुझको तमन्ना किसी और की है जा अब तेरी तमन्ना कौन करे

kisi ki pheli mohabbat

Romantic Pyar Bhari Shayari

chahre pe noor lab par hasi aankhon mein chamak
shayad tujhe kisi se mohabbat nahi huwi

वफ़ा भी मेरी अदा भी मेरी दुआ भी मेरी जफा भी मेरी
तो फिर मोहब्बत में ये तेरा किया कमाल है के सवाल भी तेरा

अगर यकीन ना हो तो बिछड़ कर देख लो
तुम मिलोगे सबसे मगर हमारी ही तलाश में

इतना बुरा तो ना था जो यु भुला दिया मुझको
कभी जो याद आऊं तो ओने फैसले पर गौर करना

kisi ki pheli mohabbat banna bohut aasaan hai
tum aakhiri mohabbat ho meri isse badi baat aur kiya hogi

ना परख मेरी मोहब्बत को दुनिया की दौलत के तराजू में
सच तो ये है के वफ़ा करने वाले अक्सर गरीब होते है

aankhien bhi bolti hai mohabbat ki bhasha
humsfar ki jazar se nazar mila kar to dekho

मेरे रूठ जाने से अब उनो कोई फर्क नहीं पढता
बे चैन कर देती थी कभी जिस को ख़ामोशी मेरी

mere ishq ne tujhe

pyar bhari shayari in hindi for boyfriend

mere ishq ne tujhe wafaon ka wo rang diya hai
jo tujhe kabhi bewafa nahi hone dega

मासूम चहेरा निगाहें फरेबी लबो पे हँसी और में जगह है
मिले यार यहाँ तेरे जैसा आये सनम तो दुस्मानो की ज़रूरत किया है

bekhabar se rahte ho bekhabar bhi rakhte ho
baat bhi nahi kate ho aur mohabbat bhi karte ho

ये कायम कैसा है रह में तेरे जिक्र इश्क को किया हुवा
अभी चंद कांटे चुभे नहीं तेरे सब इरादे बदल गए

suno aaj phir utni hi mohabbat se bolao na
kahe do milne ka man kar raha hai aao na

वफ़ा दारों ने लुटा बोहुत साहेब
चलो अब किसी बे वफ़ा दिल लगते है

mujhe parakhne mein tune puri zindagi laga di
kaash kuch waqt mujhe samjhne mein lagaya hota

तुम लाख छुपाओ सीने में अहेसास हमारी चाहत का
दिल जब भी तुम्हारा धड़केगा आवाज़ यहाँ तक सुनाई देगी

badi udaas hai

Piyaar Bhari Bhayari Download

badi udaas hai zindagi tere bin
nahi hai kuch khaas ter bin
andhera ho ya ujala
aata nahi kuch bhi nazar tere bin

जहाँ से तेरा जी चाहे वहां से मेरी ज़िन्दगी का सबक पढ़ ले
सफा कोई भी खोलेगी नाम तेरा ही लिखा होगा

tujhe kiya pata tere intezaar mein
humne har lamha kaise gujara hai
ek do baar nahi din mein hazaron
dafa teri tasveer ko nihara hai

हमने उस के नर्म होंटों को चूमने की कोशिश की इज़ाज़त मांगी
होंठ करीब लाकर कहा पागल पियार में इज़ाज़त नहीं होती

afwaa thi ki meri tabiyat kharab hai
logo ne puch puch ker bimaar kar diya
do gazh sahi magar ye meri malliyat to hai
aaye maut tune mujhe jamindaar bana diya

मुझे ज़िन्दगी की दुआ ना दे मेरी ज़िन्दगी से बनती नहीं
कोई ज़िन्दगी पे करे यकीन मुझे ज़िन्दगी पे यकीन नहीं

kahte hai jise

Pyaar Ki Shayari

kahte hai jise piyar se hum log mohabbat
har shaks ke daman mein yahi aag lagi hai

अच्छी सूरत को सवरंने की जरूरत ही क्या है
सादगी भी कयामत की अदा़ होती है

jhut kahun to sab kuch hai mere paas
aur sach kahun to kuch nahi ek tere siwa mere paas

मुझे भी समझा दे अपनी मज़बुरीयां इस कदर
की भुल जाऊ मै भी तुझे उन मज़बुरीयो के खातिर

jinhen fursat nahi milti zra si bhi yaad karne ki
unhein keh do hum unki yaad mein fursat se baithe hai

सुबह याद आते हो शाम याद आते हो,कुछ हद ही कर रखे हो
अब तो आईना हम देखते हैं,और नजर तुम आते हो

na puch raat bhar jaagne ki waja aye dile-nadaan
mohabbat mein kuch sawalon ke jawab nahi hote
wo saath thi to maano jannat thi zindagi
ab to har saans lene mein waja puchti hai zindagi

क्या हो जायेगा तेरे रोने या न रोने से ऐ दिल
जब उसे कोई फर्क ही नही पड़ता तेरे होने या न होने से