Two Line Shayari

Two Line Shayari read daily dynamic feeds of hindi sms collections of category -shayari,pyar, status,jokes in hindi language and in hindi font only, Why only read when you can explore these heart touching beautiful shayaris and nice hindi quotes with SMS.

ye-bhi-accha

Two Line Shayari instagram

Ye bhi accha hua ki hum use paa na sake
Wo humara ho kar bicchadta to qayamat hoti

बहुत आसान है इश्क़ में हार के खुदखुशी कर लेना
कितना मुश्किल है यहा जीना ये हमसे भी पूछ लेना

याद रखना भी बहुत हिम्मत का काम है
क्योंकि किसी को भुला देना आजकल बहुत आम है

फिजूल हैं सारी दलीलें और गवाह दीवानों की वकालत में
सुकून का कानून ही नही होता इश्क की अदालत में

मुझे छोड़ दे मेरे हाल पर तेरा क्या भरोसा है चारा-गर
ये तेरी नवाज़िश-ए-मुख़्तसर मिरा दर्द और बढ़ा न दे

Agar kuch sikhna hi hai to khamoshi ko padhna sikh lo
Warna lafzo ke matlab to hazaro nikalte hai

जब करवट बदलते हुए तुम्हारी याद आती है
उस वक्त मोहब्बत हमे खूब तड़पाती है

jiske lafzon me

2 Line Hindi Shayari With image

Yeh DiL Hi Jaanta Hai Meri Pak Mohabbat Ka Aalam
Ki Mujhe Jeene Ke Liye Saanso Ki Nahi Teri Zarurat Hai

क्या हुआ,जो हम लिपट गए तुझसे
तुम्हें इज़ाज़त है बदला तुम भी ले लो

Jiske lafzon me hume humara aks milta hai
Bade nasibon se aisa koi ek shaqs milta hai…

किस हक़ से मांगू अपने हिस्से का वक्त तुमसे
क्यूंकि ना ये मेरा है और ना ही तुम मेरे हो

Tumhare samne hote hue bhi tumse door rahna
Isse badi majburi ki misaal aur kiya hogi

दब गई थी नींद कहीं करवटों के बीच
दर पर खड़े रहे कुछ ख्वाब रात भर

Nahi maloom sab mujhko akela kyu samajhte hain
Main tanha jab bhi dikhta hu,tumhare sath hota hu

एहसासों की नमी बेहद ज़रूरी है हर रिश्ते में
रेत भी सूखी हो तो हाथों से फिसल जाती है

hushn-aur-ishq

Hindi Two Line Shayari

हुश्न और इश्क में क्या गजब की यारी
एक परिंदा है तो दूसरा शिकारी

क्या हो जायेगा तेरे रोने या न रोने से ऐ दिल
जब उसे कोई फर्क ही नही पड़ता तेरे होने या न होने से

न देख कर ये चेहरा अब दिल खोलते हैं
कभी कभी कुछ शीशे भी झूठ बोलते हैं

हँस हँस के जवाँ दिल के हम क्यूँ न चुनें टुकड़े
हर शख़्स की क़िस्मत में इनआ’म नहीं होता

इक झलक जो मुझे आज तेरी मिल गई
फ़िर से आज जीने की वज़ह मिल गई

लोग कह्ते है की बीना महेनत कुछ पा नहि सकते
ना जाने ये गम पाने के लिये कौन सी महेनत करली हमने

बस इतना सा अहेसान तू मुझ पे किया कर
मेरी आँखों में देखकर मेरा दर्द पहेचान लिया कर
कौन कहता है ,मुर्दे जिया नही करते मैंने आशिकों की बस्ती में लाशों को चलते देखा है

nzar-andaz-kar-dete

Two Line Shayari Hindi

किताब के सादे पन्ने सी शख्सियत मेरी
नजरंदाज कर देते है अक्सर पढने वाले

क्या अजीब सबूत माँगा है उसने मेरी मोहब्बत का
मुझे भूल जाओ तो मानू की तुम्हे मुझसे मोहब्बत है

अब तेरे ज़िक्र पे हम बात बदल देते हैं
कितनी मोहब्बत थी तेरे नाम से पहले पहले

काटकर गैरों की टाँगें ख़ुद लगा लेते हैं लोग
इस शहर में इस कदर भी कद बढ़ा लेते हैं लोग

गज़ब की धूप है शहर में फिर भी पता नहीं
लोगों के दिल यहाँ पिघलते क्यों नहीं

करवटें सिसकिया कशमकश और बेताबी
कुछ भी कहो मोहब्बत आग लगा देती है

एक मैं हूं के समझा नहीं खुद को आज तक
और लोग हैं, न जाने मुझे क्या-क्या समझ लेते हो

तुम जो थाम लेते हो ना मेरा यह हाथ ख्वाबो में
कुछ इसलिए नींद के शौक़ीन हो गए है हम

तुम समझ लेना बेवफा मुझको मै तुम्हे मगरूर मान लूँगा,
ये वजह अच्छी होगी एक दूसरे को भूल जाने के लिये

manzilo se gumrah

Two Line Shayari Hindi Me

तेरी बात ख़ामोशी से मान लेना
यह भी अन्दाज़ है मेरी नाराज़गी का

कितनी शिद्दत से मैंने चाहा था उसको
कोई अपना दुश्मन भी होता तो निभाता उम्र भर

दर्द लेकर उफ़ भी ना करे ये दस्तूर है
चल ए ईश्क़ हमे तेरी ये शर्त भी मंजूर है

तेरे इंतज़ार में मेरा बिख़रना इश्क है
और तेरी मुलाक़ात पे निख़रना इश्क है

Manzilo se gumrah bhi kar dete hai kuch log
Har kisi se rasta puchna bhi accha nahi hota

जिस चीज़ पे तू हाथ रख दे वो चीज़ तेरी हो
और जिस से तू प्यार करे वो तक़दीर मेरी हो

एक भी दिन ना निभा सकेंगे वो मेरे किरदार
वो लोग जो मुझे मशवरे देते हज़ार